Gotra-adivasi-raipur-surguja-rajnandgaon
Gotra-adivasi-raipur-surguja-rajnandgaon

सेवा जोहार सेवा बुड़ापेन सेवा बड़ापेन

गोंड सगापेन समुदाय की गोत्रावली

गोंडी पूनम मुठवा रूपोलंग पहांदी पारी कुपार लिंगो द्वारा कोया वंशीय गोंड समुदाय को

कुल 12 सगा में विभाजित किया गया है, जिसमे प्रथम 1 पेन से 7 पेन शाखा में सौ(100) – सौ(100) और शेष भूमका पेन सगा शाखा 8 पेन से 12 पेन में दस(10) – दस(10) पेन शाखा गोत्र सगाओं के नाम हैं :-

1.उंदाम या उंदीवेन सगा (एक पेन सगा) के गोत्र नाम एक पेन का नाम- ताराल गोंगो, झंडा रंग- आसमानी

अंगाम | उकाम | कन्वाती | तडोपा | येल्रांडी | विजाम | अक्काम | उक्राम | | कंगाम | ताईका |

येरीयाम | विहका | अंदराम | उर्याम | गुंदाम | नयटी | येडगाम | चेट्टाम | अरावी | उर्वाटी |

गोंदराम | नगसोरी | येरमाल | वेरकाल | अर्वात्न | उर्पिटाम | गीवांगा | नलीयाम | शयगुडा | वेलांडी |

अलांडी | एराम | चट्टाम | पंडाम | रेहकाम | वेदराम | अल्रगाम | एन्दाम | चितकामी | पईका |

रेलापाती | वराती | अर्रीटी | एडकाल | चर्वाटा | पिलकाटा | लवाटी | वलामी | अर्सैंडी | एक्राम |

चुमगोदा | मुरपाती | लगाम | संगाम | अर्राम | एन्‍नाका | जुग्गाम | मर्राम | लचियाम | सड़ाम |

अर्रारा | ओयाम | झिल्लाम | देडाम | लिंगोटा | सरपाती | अयमा | ओर्वा | टंगाम | दर्रम |

वंजाम | सोरती | इंगाम | ओराटी | टिरकाटा | दिर्माका | वर्दाम | सूर्मीकी | अडाम | ओर्साम |

टोयका | दिगरम | वरीयाम | सुर्वेलाम | इजाम | कंगाम | तेजाम | येवनाता | वडकाल | सोगामी |

इरपुंगाम | ककराम | तरावी | येर्काल | वडाम | सुईका | इमाची | कुरनाका | तरकोला | काना |

2.चिन्दाम या रंडवेन सगा (दो पेन सगा) के गोत्र नाम दो पेन का नाम- (1) ताराल गोंगो, (2) माराल गोंगो, झंडा रंग- सेंदरी

अंगराम | एटाम | कहाका | गडाम | चुराटी | नट्टाम | डोलाम | दलांडी | पडगाम | पुंगाम |

अक्राम | एहचाडा | कवटाम | गदुर्काया | चुटामी | टकाम | तिरावी | दरावी | पट्टाम | दुईका |

आदराम | ओटाम | किक्राम | गोयका | चुकराम | टीर्राम | तुर्वाडा | दुर्लाम | पंचाम | पेन्नाका |

इंगामी | ओनाका | कुलनाका | तरपती | चेलकाटा | टिंगलाम | तोराटी | दुराम | एगाम | बारनाका |

इदाम | कडाम | कुरपाती | चंगाम | चेर्वाटा | टुकाम | तोलाम | दुरीयाम | पंडाम | मिलाम |

इचाम | ककाम | कुराम | चिंदाम | चोडाम | टोडमाती | तेडगाम | दासेडाम | पिडगाम | रायताम |

इडोपा | चेंदाम | केहाका | चिलाम | चोहका | डुचाम | तोर्गा‌‌‍‌‍‌म | दोराम | पिचाम | सोनवारी |

उंगाम | कलाम | कोमतारी | चिकाली | जन्‍नाम | डरीयाम | भादिया | दोमोकसा | पिरावी | लंगाम |

उलाम | कचाम | कोहपाडा | चुडाम | झीलम | डुईका | तोयाम | नागोताम | पिराटी | लायसेंगा |

उचाम | कडाम | कोलया | चंदराम | टक्राम | डुकराम | तोहगाम नर्कीम | पिर्साम | कोर्वाम |

3.कोंदाम या मूंदवेन सगा (तीन पेन सगा) के गोत्र नाम तीन पेन का नाम- (1) जुगात्र गोंगो, (2) मुगात्र गोंगो, (3) सुकात्र गोंगो, झंडा रंग- जामुनी

अटाम | उडाम | कक्राम | गेचाम | चिताम | पुडाम | नवराती | पुर्चाम | मंदाम | सोरांडी |

अलकाना | उटाम | कडोपा | गोयाम | चिर्मोटा | तिर्याम | नलकाम | पुसीयाम | मिन्काटा | हुर्मेता |

ओयाम | उर्पाती | कसेंडी | तिसाम | जुतराम | तुराम | नायका | पेन्दावी | येसराम | वराटी |

ओयमा | उस्टाम | कींगराम | तुहाका | टोर्याम | तोतला | निर्पाती | पोंडाम | अइकाम | विक्रा |

इक्राम | एसरा | किलाप | चलका | डंगराम | तोर्यामी | निर्लाम पुयाम | रेलकाटा | सिलाम |

इताम | चंदाम | कुन्दाम | चलांडी | डुर्वाल | दिननाकी | नुंजाम | पुडका | लोसका | सीर्वाटा |

इर्काया | चेलाम | कुंदराम | चीरोया | डेराम | दावाम | रेंगाम | पराम | वेर्लांटी | सेरपाती |

इसराम | ओताम | कोंदोम | चिर्चामी | तल्‍लाम | नर्काम बलपाती | पेसाम | सेलाम | सुडाम |

इलाम | ओरावी | कोयकाटा | चिस्ताम | तईका | नतराम | नेलकाम | पोंगामी | पेडमा | एलगाम |

इलनाका | कथराम | गुसराम | चिडोपा | नुतामे | नारोमी | परामी | पेनाम | सिरसाटा | ओसराम |

4.नालवेन सगा (चार पेन सगा) के गोत्र नाम चार पेन का नाम- (1) माल, (2) लाल, (3) काल (4) पाल गोंगो, झंडा रंग- लाल

अडाम | इलांडी | एचाम | कट्राम | कीरकाटा | टेक्‍्का | चिनगाम | तुच्चाम | हिडाम | चीकराम |

अंचाम | इलगाम | एरावी | कंद्राम | कुयमा | कोचरामी | चुलमाती | तुम्माम | हिलाम | वाल्काम |

अतलाम | इरुकाम | एर्वाटी | कराई | कुचाम | कोरकाटी | चर्वाटा | नेताम | पुर्साम | चिलाम |

अडगाम | उंदराम | एर्मेन्ता | केटाम | कुर्कामी | कोवा | चिलाम | परचाकी | मुर्काकी | सीताम |

अडोपा | उराम | ओंगाम | कवाम | कुयाम | कोवाची | टोर्पाकी | मंगाम | मरपाची | जालकाटा |

अबाबा | उसराम | ओर्चाम | कलाटी | कुयका | कोवासे | टोप्पाम | सरमाकी | सीराम | कुसराम |

ईटावी | कर्कामी | कर्वाटी | किजाम | कुडयाम | गटाम | तेकाम | सेडमाके | सरकाटी | नेयती |

इंदरम | उर्षाम | कराम | कींदराम | कचीमुरा | गेटाम | मुरका | सुर्पाडा | पोयाम | नटोपा |

इडगाम | एडाम | कंदाम | कीन्वाती | कुर्राती | चडाम | तोहाकाटी | तलांजा | ताराटी | पस्ताकी |

इर्काल | एगाढ़ा | कजाम | किडगाम | केडाम | चराटी | तिर्काम | तलांडी | सुंदराम | उलांडी |

5.सैवेन सगा (पांच पेन सगा) के गोत्र नाम पांच पेन का नाम- (1) अहा, (2) महा, (3) रेका, (4) मेका, (5)गोयन्दा राहुद, झंडा रंग- मिट्टू या पोपटी या तोता

अडमे | अक्काल | कोगा | गुंजाम | चिन्हाका | मिंगाम | भोजाम | मिनगाम | सुर्काता | पुर्र |

हाड़े | इस्टाम | कोडाम | गोलाम | चिर्वाल पुर्का | बुराम | मुंगाम | दुरवा | नयटी |

अस्टाम | कोरोपा | कोटाम | गोदाम | चिलमेंता | पुगाम | मंगलाम | मुचामी | दुरांडी | सेडोपा |

अलाम | कंगला | कोटामी | पावला | चितलोका | बल्‍लामी | मचाम | मिन्दाम | घुर्रे | सोराम |

अरमाती | कर्लाम | कोंकाम | गारंगा | चुर्थाम | बग्गाम | मरापे | मुयामी | पेंडराम | सिट्राम |

अट्टामी | कठोताम | कोकड़ा | कन्‍नाका | चोपाम | बार्पाती | मलकाना | मुरमेन्ता | पोचाम | सर्गाती |

अक्कामी | गोचा | पदामी | चिगाम | चोलाम | बिकराम | मतलामी | मुरपुंगा | पोयका | नलीयाम |

अर्टाम | कीटाम | गचाम | चिटराम | चोहकाम | बुदाम | कौवड़ो | मुरापा | पोकाम | भोजाम |

अर्पाती | कीसराम | गटराम | चिडगाम | पुर्काटी | बोसाम | मित्राम | मुरपाटा | पोटामी | नेलांजी |

अर्काम | केलांडी | गतलामी | चितलाम | पुलकाम | बोर्साम | मितलाम | सुसामी | परस्ते | कींगराम |

6.सार्वेन सगा (छः पेन सगा) के गोत्र नाम छः पेन का नाम- (1) अहेओदाल, (2) महेओदाल, (3) अपाई ओदाल, (4) तिपाई ओदाल, (5) मंडे ओदाल, (6) कोईन्दो ओदाल, झंडा रंग- हरा या हिरवा

अडीयाम | उड़का | कुडोपा | कोहचाडा | जलपती | वरटी | नयताम | पोरेटी | रायमेन्ता | सरोतिया |

असराम | उसेंडी | पुरयाम | गावडे | टेकाम | तिरावी | नगसोरी | पावला | रायसीराम | सींदराम |

आतराम | उरेती | कुसराम | गडाम | हर्कोला | तिलाम | नेताम | पोया | लेकामी | सीडाम |

अहाका | उर्रे | कुलमेन्ता | नामूर्ता | डेगमती |तिलगाम | परतेती | बरकुटा | वेलादी | सिरसाम |

ओयमा | उडाम | कुमरा | चीचाम | तुमडाम | तिमाची | पुराम | बगाम | बोदबायना | सोरी |

अडामो | एलाम | केराम | चीरको | तोरे | तुसाम | जगत | बोगामी | वेडकाल | सीरसो |

अरमो | तिडगाम | कोरचा | चिडाम | सोर्साम | तुर्रम | वेलाटी | मरकाम | वरकडा | हिचामी |

अकोम | कडीयाम | कोटनाका | चिलकाम | तोडाम | तुलाम | हुसेंडी | मरापा | वेडमा | हिडाम |

ओलांडी | कातलाम | कोडोपा | चुलकामी | तोडासे | तुलावी | पेन्दाम | मलगाम | सल्‍लाम | कार्पेकोटा |

ओट्टी | कीराम | कोराम | छदय्या | तिडाम | तिरपाती | पोरता | येलादी | सींगराम | पुसाम |

7.येवेंन सगा (सात पेन सगा) के गोत्र नाम सात पेन का नाम- (1) धनबाह, (2) धन्ठाई, (3) पिंडेजुगा, (4)राईमुद्दो, (5) चिकटराज, (6) भंडेसारा, (7) भूईंदागोटा, झंडा रंग- पीला

अडमाची | कटींगा | कोहमुंडा | जींगाम | तुग्गाम | वाडीवा | सय्याम | दरीयाम | कर्पेकोटा | बुर्दाम |

अड़मे | कर्वेटाम | खंडाता | जुमनाती | तुरीयाम | बजूमूता | सराटी | धुर्वा | करेकारी | कोकाटा |

आरमोर | कीरंगा | गोटा | जोडाम | तर्गाम | मडावी | सयाम | पेंद्रो | बोर्साम | मंडामी |

अजुर्मूजा | कुंजाम | गोटामी | बोर्गाम | ताराम | मरई | सरूता | पंधराम | कींगराम | येरपाती |

इरपाती | कोडवाती | गोलांग | उर्पाती | नरोती | मंगराम | सर्टीया | पट्टावी | सहका | तुरीया |

इनवाती | कोकोडीया | गोडगा | तलांडी | नेटी | मर्सकोला | छोट्टा | पुराटी | सरीयाम | दर्रो |

कंगाला | डोडेरा | गड़ी | ताडाम | नट्टामी | मरपाती | पुर्काम | पुंगाम | तिर्याम | मुराकी |

कंगाला | कोरेटी | जुन्नाका | तुलावा | पद्दाम | मसराम | परीयाम | भूजाम | नंजाम | सीदोवोयना |

कन्‍नाका | कोयतामी | जीकराम | सितराम | पटावी | वेट्टी | करपे | भलावी | पुर्काम | बोट्टी |

कवरती | कर्सैंगा | जडपाती | तिलनाका | सर्वेटा | वेरमा | करपाती | काशीयाम | मुर्कासी | वेरगा |

8.अर्वेन सगा (आठ पेन सगा) के गोत्र नाम- भूमका नारायणसूर गोंगो

अंगाम | कंगला | उंदास | कसेंडी | दुगासा | उकाम | तोराटी | इलाम | डुवील | दरावी |

9.नर्वेन सगा (नौ पेन सगा) के गोत्र नाम- भूमका कोलासूर गोंगो

अडाम | तराटी | तुर्पाडा | नटोपा | चराटी | इलांडी | कुचाम | कोवा | परसो | डेगामी |

10.पदवेन सगा (दस पेन सगा) के गोत्र नाम- भूमका हीराजोती गोंगो

तुम्मा | मंडारी | बदाम | दुरवा | कडता | गोरंगा | पुरका | मुरापा | पुंडराम | कींगराम |

11.पार्वूदवेन सगा (ग्यारह पेन सगा) के गोत्र नाम- भूमका मानकोसुंगाल गोंगो

कलंगा | गोटा | वेरमा | धुरुवा | पटावी | कटींगा | नेटी | मुरावी | खंडाता | पंडराम |

12.पार्रडवेन सगा (बारह पेन सगा) के गोत्र नाम- भूमका तुरपोराय गोंगो

उईका | वेदाली | कोरचा | सोरी | दडांजा | तोरा | कंगाम | सललाम | मरकाम | नेताम |

 ——————————————————————————

कुछ क्षेत्रो में स्थानिया गोंडों की गोत्रावली

मुख्य देवगढ़

तीन देव:- “धमधागढ़” चार देव:- “लांजीगढ़” पांच देव:- “बैरागढ़”    छ:देव:-  “चांदागढ़” सात देव:- “मंडलागढ़”   सुझाव: – यह गोत्र प्रणाली दुर्ग, रायपुर, राजनांदगांव के समतल क्षेत्र में व्याप्त है .. !!  

ध्रुव वंश गोत्रावली


तीन देव:- सोरी, मरकाम, खुसरो चार देव :-  नेताम, टेकाम, करियाम, सिंदराम. पांच देव :-  नमृर्ता, पुराम, पडोती, पद्राम, नहका, किले छ: देव:-  कतलाम, कुमेटी, उइका, पावले, ओटी, घावड़े, कोर्राम, तुमरेकी, जीर्रा, कोड़प्पा, कोमर्रा, कोहकटा, गावडे़, पट्टा, अरकरा, सलाम, पुसाम, ततराम, मातरा, दराजी  सात देव :- ताराम, पंद्रो, सेवता, श्याम, कुंजाम, खुरश्याम, मरई (मंडावी),  

माठिया गोंड


बिलासपुर, रतनपुर और सुरगुजा के इलाको में इसका फैला हुआ है।:- 
 

तीन देव:- धमधागढ़, शांडिल्य गोत्र बाघ बाना मरकाम, नेटी, खुसरो, सोरी, सिरसो, पोया

चार देव:- रायसिंघोरागढ़, गोत्रगुरूप,बाना फुलेशर झिकराम, झुकरा, टेकाम, नेताम, करियाम, शिवराम, सिंगराम, मर्सकोला, तिलगाम, पुसाम, ओची, घुरायम, धुरवा, लेडाम, परपची, उडवाची, आयम, केराम, पांच देव:- हीराग, कांशी, गोत्र कटककेसर बाना ओटी, पोटी, सवाम, चिरको, डफाली

पांच देव:- बैरागढ़, शेया गोत्र, परथ बाना परते, कमरो, कोरचो, ओलको, चेचाम

छ:देव:- देवगढ़, पुहुप गोत्र, नाग बाना ओड़े, उइका, उर्रे, पोटा, अरमो, ओरकेरा, पोटा, ओडाली, कोर्राम, मरापो, पावले, नीरा

सात देव:- नाग बाना, गढ़ मंडला, आंडिल्य गोत्र मरावी, कोलिहा, मसराम, बदिहा, श्याम, सरूता, मलावी, मलगाम, भलावी, मर्सकोला, करपे, कंगाली, पंद्रो, घेराम, सोरटिया, आरमोर     

पहरिया गोंड


इसमें पेन व्यवस्था नही होती केवल सम विषम होता है..
 

प्रथम पक्ष– करियाम, गावड़े, होडोपी, नेताम, टेकाम, उइका, कोर्राम, हिडको, कोमर्रा, कुमेटी, मरकाम, केराम, करलाम, पोया, पद्दा, कुमेटी, पदोटी, तुमरेकी, परचापी, सलाम, कमरो, हिचामी, उसेंडी, सोरी, कोवाची, नुटी, तटा, वट्टी, तोपा, मतलामी, हिरामी, हर्रो, कोरचा, कमरो, पुडो, मर्रापी, होडोषी  

द्वितीय पक्ष– हुर्रा, कोला, मरई, कुंजाम, कोरोटी, दर्रो, कौड़ो, खुरश्याम, करंगा, बोगा, सेवता, गोटी, आ्चला, दुग्गा, पोया, पदागोटा, नुरोटी, नरेटी, नेरोटी, वरवेटी, कल्लो, तुलाई, तारम, पोटई, श्याम, ध्रुर्वा,  

इसमें केवल दो चरण होते हैं। सम विषम , पितृ पक्ष और मातृ पक्षा, यहां तक ​​कि पितृ पक्ष 2,4,6,8,10,12 देव और विषम मातृ पक्ष 1,3,5,7,9, देव शक्ति क्षेत्र की वंशावली बोरदा।  

गोंड सात वंश के हैं

1. सुर्यवंशी (देवगढ़ चांदा ) गोत्र पारेश्वर 6 सगा जगत, 1. धुरवा, 2. पोखर, 3. पोटा, 4. भोय, 5.  गड़तिया, 6. धोवा बनवास मांझी

2. सोमवंशी.  पोर्रे ( बैरागढ़ ) गोत्र अत्रि 5 भाई पोर्रे ( पोर्ते ), 1. नेताम, 2. कामेरा, 3. मांझी, 4. राय, 5. भुलेटर

3. गंगवंशी नेताम (लांजीगढ़) गोत्र_कश्यप,4 सगा नेताम, टेकाम, मरपाची, केवाची

4. गाग्रमवंशी मरकाम (धमधागढ़) शांडिल्य 5 सगा 1. टेढ़ी मरकाम, 2. डुडी मरकाम, 3. सहाड़ मरकाम, 4. सेत मरकाम, 5. साल मरकाम

5. जदुवंशी नेट (सम्हरगढ़ ) गोत्र अन्डील 3 सगा नेटी

6. कदमवंशी ओटी(आलंका भुवन मठ )गोत्र पुलस्त  6 सगा ओटी 1. डोंगर गछा, 2. डाही डोरा, 3. भद्रा, 4. बिसोरिहा, 5. बहीगा,  6. सील

7. नागवंशी मरई(मरावी )गढ़ मंडला ,गोत्र पुहुप 7 सगा 1. गुटाम, 2. कुंजाम, 3. पुसाम, 4. पुरकाम, 5. साय ( साही), 6. राय, 7. कांदरो  

नोट: – राज गोंड का वंश अलग है, जो ध्रुव और अमात्य गोंड वंश से मेल खाता है .. !


गोंड और राजगोंड में अंतर ?

बड़ादेव व बुढ़ादेव में क्या अंतर है

6 COMMENTS

  1. जय गोंडवाना साम्राज्य बहुत धन्यवाद sir आपका जो अपने जानकारी दी जो हमारे गोंड समाज के लिए बहुत जरूरी चीज है जय सेवा जय गोंडवानागणतंत्र

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here