dongartal-gondwana-memorial
dongartal-gondwana-memorial

देवलापार खण्ड के डोंगरताल नामक गॉव में रामटेक तहसील, जिला – नागपुर, महाराष्ट्र में है । डोंगरताल नाम इस किले को इसलिए दिया गया क्योकि यह किला चारो और पर्वत तो के घिरा हुवा है ।

डोंगरताल और कड़बीखेङा इन दोनों गांव के बिच प्राचीन बाजार लगता था वह पर उस समय के अवशेष अभी भी है। वहां गोण्ड राजा का किला के कुछ अवशेष है व किला का कुछ हिस्सा आज भी खड़ा है लेकिन आधे से ज्यादा किल्ला टुटा हुवा है। कुछ मरमत चल रही है चारो पर किले का परकोट है और बिच में से गुप्त रास्ता है। ऐसा ग्राम वासिओ का मानना है और यहाँ गढ़ – मण्डला के महाराजा संग्रामशाह का एक गढ़ है । जिसके टूटे फूटे अवशेष आज भी मोजूद है, “बल्ली उइके” इस गढ़ के गढ़ प्रमुख थे ।

देवगढ़ राज्य के समय में, एक मुसलमान बुलंदशाह उइके को परगना का प्रमुख नियुक्त किया गया था। फोटो सौजन्य (19/05/2016) — मनोहर उइके और रविन्द्र कंगाली

देवलापार…. रावणराज कोईतूर – रामटेक ।


कोयली कचारगढ़ प्रकिर्तिक गुफा | कचारगढ़ मेला | Kachargarh

तेजा भील | सिरोही हत्याकांड

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here