shiva-linga
shiva-linga

स्वामी अग्निवेश ने कहा कि अमरनाथ गुफा में बना बर्फ का शरीर भगवान नहीं है, यह एक साधारण वैज्ञानिक प्रतिक्रिया है।

यदि इतने कम तापमान पर गुफा की छत से पानी टपकता है, तो यह द्रव्यमान के रूप में जम जाएगा।

उसकी पूजा करने से, उस यात्रा के दौरान हर साल कई लोग मारे जाते हैं।

यात्रा करने और यात्रियों के लिए करोड़ो खर्च करना, सैनिकों को तैनात करना फिजूल खर्ची है।

भारत में बच्चों और युवाओं को हिंदुत्व के नाम पर धोखा देने वाले ठग सक्रिय हो गए।

स्वामी अग्निवेश पर दस लाख रुपये का इनाम घोषित किया।

स्वामी अग्निवेश के खिलाफ एफआईआर दर्ज की

दो जिला अदालतों ने उसके खिलाफ वारेंट निकले

ठीक इसी प्रकार की गलती जब ब्रूनो ने बाइबिल में पाई की सूर्य पृथ्वी के चारों ओर घूमता और सब को बताया कि ।

सच्चाई यह है कि पृथ्वी सूर्य के चारों ओर घूमती है।

इस मामले पर चर्च के पुजारियों ने ब्रूनो को जला दिया।

आज हम इसके लिए ईसाइयों की आलोचना करते हैं।

लेकिन वह खुद यह घोषणा करने में गर्व महसूस करता है। खुद अंधविश्वास में फंसकर सच्चाई का वध करते है।

अमरनाथ जैसी गुफा ऑस्ट्रिया में बहुत बड़ी है।

लेकिन वहां के लोग उसे भगवान नहीं मानते,

न ही वैज्ञानिक कथावाचक का गला काटने के बाद इनाम घोषित करते हैं।

बच्चों की शिक्षा से विज्ञान को बाहर निकालें दो,

या विज्ञान बोलने वालों का वध करने की घोषणा दो।

तो देश में केवल मूर्ख की मिलेगे और धर्म के नाम पर खून बहाना चाहिए।

बच्चो को वैज्ञानिक बनाये और दुनिया को बेहतर बनाएं

हिमांशु कुमार स्वामी


सेवा जोहर में “सेवा” का क्या मतलब है ???

गोण्डवाना मे विवाह संस्कार व वैज्ञानिक दृष्टिकोण

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here